Uncategorized

नटवर स्कूल रायगढ़ के ऐतिहासिक व सांस्कृतिक धरोहर का प्रतीक,इसके अस्तित्व को बचाने हम हर मोर्चे पर संघर्ष को तैयार-विकास केड़िया

नटवर स्कूल रायगढ़ के ऐतिहासिक व सांस्कृतिक धरोहर का प्रतीक, इसके अस्तित्व को बचाने हम हर मोर्चे पर संघर्ष को तैयार – विकास केड़िया
हिंदी भाषी छात्रों के भविष्य के साथ अन्याय नहीं होने देंगे

रायगढ़ – जिलें के सबसे बड़े शासकीय स्कूल किरोड़ीमल नटवर हाईस्कूल के अस्तित्व को बचाने की लड़ाई में आज से “स्कूल बचाओ संघर्ष मोर्चा” के तत्वाधान में अनिश्चित-कालीन धरना व आंदोलन की शुरुआत कर दिया गया है जिसमें संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष राजा देवेंद्र प्रताप सिंह की अगुवाई में समिति से जुड़े तमाम पदाधिकारियों व सदस्यों की मौजूदगी के साथ साथ शहर के कई सामाजिक संगठनों से जुड़े सदस्य भी पूरे दिन धरना-स्थल पर मौजूद रहें।
इसी कड़ी में “स्कूल बचाओं संघर्ष मोर्चा” के सदस्य व जिला भाजपा के तेज़तर्रार नेता विकास केड़िया भी आंदोलन को अपना समर्थन देने अपने दर्जनभर से अधिक साथियों के साथ पहुँचे। भाजपा नेता विकास केड़िया ने अपने जोरदार उद्बोधन में कहा कि हमारा नटवर स्कूल , हमारे लिए सिर्फ एक शिक्षा का मंदिर नहीं हैं बल्कि पूरे जिलें में बीतें एक सदी में हुए तमाम राजनीतिक, सामाजिक व सांस्कृतिक घटनाक्रमों का साक्षी होने के साथ साथ हमारे शहर का ऐतिहासिक धरोहर व गौरव भी हैं।

इसी स्कूल में पढ़कर रायगढ़ व जशपुर जिलें के अनेक विभूतियों ने देश-विदेश में रायगढ़ के नाम को गौरवान्तित किया हैं। पर दुर्भाग्य से आज छत्तीसगढ़ के काँग्रेस सरकार द्वारा अपने सुनियोजित एजेंडे व षड्यंत्रकारी नीतियों के तहत इस स्कूल को विलोपित करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है जिसे हम रायगढ़ वासी किसी भी सूरत ए हाल में बर्दाश्त नहीं करेंगे।

आगे अपने उद्बोधन में भाजपा नेता ने कहा कि छत्तीसगढ़ शासन की शिक्षा नीति के नाम पर एक सुनियोजित एजेंडे के तहत पूरे प्रदेश के 171 हिन्दी माध्यम स्कूलों को बन्द कर आत्मानंद अंगेजी माध्यम स्कूल संचालित कर रही हैं जिससे हिन्दी माध्यम के हज़ारों विद्यार्थियों के समक्ष शिक्षा उपार्जन का गहरा संकट पैदा हो गया है लेकिन हम अपने जिलें के ऐतिहासिक धरोहर नटवर स्कूल के साथ ऐसा हरगिज नहीं होने देंगे।

आगे भाजपा नेता ने यह भी कहा कि वर्तमान में इस स्कूल में लगभग 900 हिंदी माध्यम के छात्र अध्ययनरत हैं और हिन्दी माध्यम की शिक्षा समाप्त कर देने से यहाँ शिक्षा ग्रहण कर रहें सभी 900 छात्रों का भविष्य अंधकारमय हो जाएगा, जिसे हम रायगढ़वासी स्वीकार नहीं करेंगे और अगर शासन प्रशासन हमारी माँगो पर विचार करते हुए जनभावनाओं के अनुरूप अपेक्षित निर्णय नहीं करती हैं तो हम स्कूल बचाओं संघर्ष मोर्चा के तत्वाधान ने हर स्तर पर रायगढ़ के सम्मान की इस लड़ाई को लड़ने को तैयार हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!