Blog

💥नशे पर चोट💥
छत्तीसगढ़ के दो अलग-अलग जिलों में नशे के खिलाफ हुई कार्रवाई…कहां कितना माल हुआ बरामद…पढ़िए न्यूज़ मिर्ची-24

छत्तीसगढ़ दो अलग-अलग समाचार एक साथ पढ़े….

एक तरफ रायगढ़ पुलिस की नशे के विरुद्ध बड़ी कार्यवाही,नशीली इंजेक्शन प्रतिबंधित कैप्सूल सिरप बेचने वाले रैकेट का भंडाफोड़, स्थानीय डीलर,उड़ीसा के मेडिकल दुकान….

राजधानी रायपुर के IPS संतोष सिंह की पहल “निजात” राजधानी में भी दिखाने लगी असर, 10 दिन में 10 अंतर्राज्यीय तस्कर सहित 26 आरोपी व 300 से ज्यादा लोग भेजे गये सलाखों को पीछे

आरोपियों से करीब 14.75 लाख की नशीली दवाएं और 1,20,000 रुपए का 6 किलो गांजा जप्त,आरोपियों पर एनडीपीएस एक्ट की कार्यवाही
रायगढ़।पुलिस अधीक्षक दिव्यांग कुमार पटेल के मार्गदर्शन पर रायगढ़ शहर में प्रतिबंध नशीली दवाएं टैबलेट सिरप एवं नशीली इंजेक्शन बेचने वाले गिरोह के सदस्यों के साथ पुलिस ने स्थानीय डीलर तथा इनके सप्लाई चैन पर कार्यवाही करते हुए ओडिशा के मेडिकल स्टोर पर छापेमारी कार्यवाही कर अवैध रूप से प्रतिबंधित दवाएं बिना डॉक्टर प्रिस्क्रिप्शन पर्ची देख बिक्री करने वाले मेडिकल स्टोर संचालक और उसके भाई को गिरफ्तार किया गया है । आरोपियों से जप्त नशीली दवाएं जप्त कर एनडीपीएस एक्ट की कार्यवाही कर आरोपियों को जेल भेजा जा रहा है।

केस नं0 -1
एसपी दिव्यांग कुमार पटेल को शहर में नवयुवकों को आसानी से प्रतिबंधित दवाएं बिना डॉक्टर प्रिस्क्रिप्शन पर्ची के उपलब्ध होने की जानकारी मिल रही थी जिसे नवयुवक नशे के रूप में उपयोग कर रहे थे जिस पर कार्यवाही के निर्देश सभी थाना प्रभारी को दिया गया । इसी क्रम में थाना प्रभारी जूटमिल निरीक्षक मोहन भारद्वाज को मुखबिर से सूचना मिली कि क्षेत्र का रामकुमार खटर्जी अपने किराना दुकान में प्रतिबंधित दवाएं बिक्री कर रहा है सूचना पर तत्काल जूटमिल पुलिस द्वारा संदेही के किराना दुकान पर दबिश दिया गया जहां । आरोपी के कब्जे से दो अलग-अलग कंपनियां प्रतिबंध दर्द निवारक कैप्सूल 305 नाग कैप्सूल कीमती 2803 रुपए का जप्ती किया गया । आरोपी पर थाना जूटमिल में 21, 29 एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही का कर आरोपी से उसके लिंक के संबंध में पूछताछ किया गया जिसे पूछताछ में कनकतुरा थाना रेंगली जिला झारसुगुड़ा के मधुसूदन मेडिकल स्टोर से प्रतिबंधित दवाएं बिना डॉक्टर पर्ची के खरीद कर लाना और रायगढ़ शहर में बिक्री करना बताया । एसपी दिव्यांग कुमार पटेल द्वारा सीएसपी अभिनव उपाध्याय के नेतृत्व में थाना कोतवाली, जूटमिल और साइबर सेल की संयुक्त टीम गठित कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए पुलिस टीम द्वारा तत्काल कनकपुरा मधुसूदन मेडिकल स्टोर में दबिश दी इसके संचालक पदम लोचन मेहर को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर उसने अपने भाई के साथ मादक पदार्थ गांजा, नशीले टैबलेट और इंजेक्शन की बिक्री करना बताया । पुलिस टीम द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों से जानकारी साझा कर विधिवत ड्रग्स विभाग को सूचना देकर संयुक्त टीम द्वारा मेडिकल स्टोर पर छापेमार कार्यवाही की गई आरोपियों से 6KG गांजा, भारी मात्रा में नशली दवाएं, इंजेक्शन, सिरप की जप्ती कार्यवाही की गई । आरोपी पदम लोचन और उसके भाई चंद्रशेखर को थाना जूटमिल के अपराध में संयुक्त आरोपी बनाया गया है।

छोटी बड़ी खबरों के लिए संपर्क करें…9827950350

केस नं0 -2
इसी क्रम में थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक शनिप रात्रे को उनके लगाए मुखबीर से सूख्ना मिली कि रेलवे स्टेशन के पास सुरेश वर्मा नाम का व्यक्ति नशीली टैबलेट बेच रहा है । तत्काल कोतवाली पुलिस की टीम द्वारा रेलवे स्टेशन पर ताबीज देकर सुरेश वर्मा को हिरासत में लिया गया । सुरेश शर्मा के कब्जे से पुलिस को 128 नग प्रतिबंधित नशीली कैप्सूल कीमत 8726 रुपए और बिक्री रकम ₹300 बरामद किया गया । आरोपी सुरेश वर्मा से नशीली दवाओं के संबंध में पूछताछ करने पर सुरेश वर्मा ने घासीराम सिदार निवासी धांगरडिपा शीतला मंदिर के पास से नशीली दवाएं खरीद कर लाना और बेचना बताया और 20000 एडवांस में देना बताया । सीएसपी रायगढ़ के नेतृत्व में पुलिस टीम द्वारा घासी राम सिदार के घर दबिश दिया गया।

जहां मौके पर दिलीप सिंह राजपूत पहले से नशीली दवाएं खरीदने खड़ा मिला । पुलिस टीम द्वारा विधिवत स्टाफ की तलाशी देकर संदेही घासीराम सिदार की तलाशी ली गई जिसके पास से 130 नग एम्पुल नशीली इंजेक्शन कीमती 7760 रुपए और बिक्री रकम करीब ₹5000 बरामद हुआ । वहीं आरोपी दिलीप सिंह राजपूत के कब्जे से पुलिस ने नशीली इंजेक्शन 260 नग कीमत 15516 रुपए तथा नगदी रकम ₹8000 जप्त किया गया है । तीनों आरोपियों पर थाना कोतवाली में धारा 21(B), 29 एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही की गई है।आरोपियों से पूछताछ में कुछ अहम जानकारियां हाथ लगी है, इस ओर भी कोतवाली पुलिस जांच कार्यवाही कर रही है।
एसपी दिव्यांग कुमार पटेल द्वारा पुलिस टीम को क्षेत्र में इसी प्रकार अन्य मादक पदार्थ विक्रय करने वालों पर निगाह रखकर कार्यवाही का निर्देश सभी राजपत्रित अधिकारियों को अपने पर्यवेक्षण में कराने के निर्देश दिये गए हैं!

वही हम आपको बता दें कि राजधानी रायपुर एसपी संतोष कुमार सिंह ने भी नशे के खिलाफ की बड़ी कार्रवाई

नशे पर चोट जारी है….:

रायगढ़।नशे के खिलाफ राजधानी पुलिस की मुहिम जारी है। SP संतोष सिंह की अगुवाई में नशे के खिलाफ लगातार कार्रवाईयां चल रही है। फरवरी माह के विगत 10 दिनों में नारकोटिक्स एक्ट के 18 प्रकरणों में 26 आरोपी गिरफ्तार किये गये हैं। पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के दिशा निर्देश पर पुलिस ने नशे के खिलाफ कार्यवाही व जागरूकता अभियान, निजात अभियान शुरू किया है, जिसमें समस्त थाना एवं एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट की टीम द्वारा लगातार कार्यवाही की जा रहीं है। नारकोटिक्स एक्ट पर प्रभावी कार्यवाही करने हेतु एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट की विशेष टीम का गठन किया गया है साथ ही समस्त थाना प्रभारियों को नशे की सामाग्री बिक्री करने वालों एवं सप्लाई करने वालों पर कठोर कार्यवाही करने निर्देशित किया गया है।

रायपुर पुलिस द्वारा कार्यवाही करते हुए फरवरी माह में पिछले 10 दिनों में अब तक नशे की सामग्री बिक्री करने वाले 16 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है एवं उनसे सप्लाई नेटवर्क के संबंध में सघन पूछताछ कर जानकारी एकत्रित की जा रहीं है। साथ ही एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट की विशेष टीम द्वारा तकनीकी विश्लेषण एवं अपने आसूचना तंत्र के माध्यम से नशे की सामग्री सप्लाई करने वालों पर निगरानी रखीं जा रहीं है। गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ एवं तकनीकी आसूचना के आधार पर रायपुर में नशे की सामग्री सप्लाई करने वाले 10 अंतर्राज्यीय तस्करों को विभिन्न प्रकरणों में गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त हुई है। ये ओडिशा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश एवं दिल्ली से नशे की सामग्री रायपुर में सप्लाई करते थे। इनके कब्जे से लगभग 79 किलो 136 ग्राम गांजा, 4.31 ग्राम एम.डी.एम.ए.ड्रग्स, 21 ग्राम अफीम एवं 600 शीशी प्रतिबंधित नशीली सिरप जप्त कर रायपुर के विभिन्न थानों में आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही किया गया है।

देवेन्द्र नगर थाना एवं गंज थाना में 02 अलग – अलग मामलों में प्रतिबंधित नशीली कोड़िन सिरप सप्लाई करने वाले कुल 06 आरोपियों को रायपुर से गिरफ्तार किया गया था और इनके पास से 234 शीशी प्रतिबंधित नशीली सिरप जप्त किया गया। आरोपियों से गहन पूछताछ एवं तकनीकी विश्लेषण करने पर उनके द्वारा सामाग्री महाराष्ट्र के नागपुर से मंगाना पाया गया। जिस पर विशेष टीम गठित कर तत्काल नागपुर रवाना किया गया जहां आरोपी का पता तलाश कर उसके घर पर रेड कार्यवाही की गई। जहां से आरोपी कमलेश उपाध्याय के कब्जे से कुल 2994 शीशी प्रतिबंधित नशीली कोड़िन सिरप जप्त किया गया। गिरफ्तार आरोपी कमलेश उपाध्याय नागपुर में मेडिकल स्टोर का संचालन करता था एवं अवैध रूप से रायपुर के अलग – अलग लोगों को प्रतिबंधित नशीली कोडिन सिरप सप्लाई करता था। कमलेश उपाध्याय से सप्लाई चैन के संबंध में गहन पूछताछ एवं तकनीकी विश्लेषण करने पर उसके द्वारा सामाग्री दिल्ली से मंगाना पाया गया। जिस पर विशेष टीम गठित कर तत्काल दिल्ली रवाना किया गया जहां कई दिनों तक आरोपी का पता तलाश कर उसके भण्डारण एवं सप्लाई के संभावित स्थानों के संबंध में जानकारी एकत्रित की गई।

जिसके पश्चात सुनिश्चित होने पर आरोपी के दुकान पर रेड कार्यवाही की गई।जिस पर दिल्ली के रोहिणी सेक्टर-02 एस.डी. शाॅपिंग में स्थित गणेश फार्मा में संदीप भारद्वाज को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से कुल 600 शीशी प्रतिबंधित नशीली कोड़िन सिरप जप्त कर कार्यवाही किया गया।आरोपी संदीप भारद्वाज दिल्ली का निवासी है एवं मेडिकल होलसेल व्यवसाय की आढ़ में देश के अलग-अलग राज्यों में प्रतिबंधित नशीली सिरप एवं टेबलेट की सप्लाई करता था। आरोपी से प्राप्त दस्तावेज एवं तकनीकी विश्लेषण के आधार से ज्ञात हुआ है कि संदीप भारद्वाज द्वारा कमलेश भारद्वाज के शिवनाथ मेडिकल स्टोर को 160 पेटी (19200 शीशी) प्रतिबंधित नशीली कोडीन सिरप अवैध रूप से सप्लाई किया गया था। इसके साथ ही आरोपी संदीप भारद्वाज द्वारा अवैध रूप से प्रतिबंधित नशीली सिरप/टैबलेट की बिक्री/सप्लाई महाराष्ट्र, असम, गुवाहाटी एवं नागालैण्ड सहित अन्य राज्यों में भी बड़ी मात्रा में सप्लाई किया जाता था।रायपुर पुलिस द्वारा इस पूरे प्रकरण में प्रतिबंधित नशीली कोड़िन सिरप के सप्लाई नेटवर्क पर कार्यवाही करते हुए 02 अंतर्राज्यीय तस्कर सहित कुल 08 आरोपियों को गिरफ्तार कर कुल 3828 शीशी प्रतिबंधित नशीली सिरप कीमती लगभग 7,65,000 रूपये जप्त किया गया!बहरहाल निजात अभियान के तहत रायपुर पुलिस द्वारा नशे की सामग्री सप्लाई करने वालों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही जारी रहेगी..SP संतोष कुमार सिंह

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!