Uncategorizedरायगढ़शिक्षा

रायगढ़ की ऐतिहासिक धरोहर नटवर हाईस्कूल के साथ किसी भी प्रकार की षड्यंत्र कारी नीतियों को बर्दाश्त नहीं किया जावेगा…गौतम अग्रवाल

रायगढ़ की ऐतिहासिक धरोहर नटवर हाईस्कूल के साथ किसी भी प्रकार की षड्यंत्र कारी नीतियों को बर्दाश्त नहीं किया जावेगा गौतम अग्रवाल

स्वामी आत्मानंद स्कूल के नाम पर बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होने दिया जाएगा

किरोड़ीमल नटवर हाई स्कूल रायगढ़ जिला ही नहीं पूरे छत्तीसगढ़ प्रदेश की अमूल्य धरोहर है इससे रायगढ़ के अनेको महान विभूतियों ने पढ़कर इस शहर का नाम पूरे देश में गौरवान्वित किया है। इस स्कूल ने सांसद, विधायक, डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, और बड़े बड़े पद में बैठे शासन और प्रशासन के अधिकारी यहां पर शिक्षा ग्रहण कर चुके हैं। और आज छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा षड्यंत्रकारी नीतियों के तहत इस स्कूल को विलोपित करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है जो कि हम रायगढ़ वासियो के बर्दाश्त से बाहर है।छत्तीसगढ़ शासन की शिक्षा नीति के आदेश से किरोड़ीमल नटवर हाई स्कूल के साथ ही ब्लॉक मुख्यालयों सहित छत्तीसगढ़ के तक़रीबन 171 हिन्दी माध्यम स्कूलों को बन्द कर आत्मानंद अंगेजी माध्यम स्कूल संचालित किए जा रहे हैं, जिससे हिन्दी माध्यम के हज़ारों विद्यार्थियों के समक्ष संकट उत्त्पन्न हो गया है। किरोड़ीमल नटवर हाई स्कूल का विलोपन कर स्वामी आत्मानंद के नाम पर हिंदी माध्यम के स्कूलों को समाप्त करने के विरोध में आज से स्कूल बचाओ संघर्ष मोर्चा के बैनर तले अनिश्चित कालीन धरना आंदोलन बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ चौक पर शुरू कर दिया गया है। यह विरोध नियमों के विरुद्ध षड्यंत्र पूर्वक लागू की जाने वाली शिक्षा व्यवस्था के खिलाफ है। और मैं भी इस गलत शिक्षा व्यवस्था के खिलाफ में संघर्ष मोर्चा के साथ कदम से कदम मिलाकर खड़ा हूं। किरोड़ीमल नटवर स्कूल में लगभग 900 बच्चे अध्ययनरत हैं जिनका भविष्य इस गलत नीति के तहत संकट में है। रायगढ़ के ऐतिहासिक धरोहर किरोड़ीमल नटवर हाई स्कूल को सरकार द्वारा षड्यंत्र पूर्वक समाप्त कर सरकारी सम्पत्तियों को बेवजह नुकसान पहुंचाया जा रहा है और रायगढ़ की जनता इस तरह से खुले आम हो रहे प्रशासनिक अत्याचार को बर्दाश्त नही करेगी इसलिए इस फ़ैसले के खिलाफ जनता के हित में शांति पूर्ण लोकतंतिक तरीके से विरोध पूर्व में भी किया गया है और आगे भी करती रहेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!